Verb In Hindi , क्रिया(Verb) किसे कहते हैं, परिभाषा(definition) भेद एवं उदाहरण ।

 

Verb In Hindi , क्रिया(Verb) किसे कहते हैं, परिभाषा(definition) :

परिचय(Introduction)-  

verb का हिंदी अर्थ क्रिया होता हैं जो किसी कर्ता( कार्य करने वाले) के बारे यह बताते हैं की कर्ता(subjects) क्या करते हैं किसी भी वाक्य में कर्ता,कर्म(object) के साथ क्रिया की विशेष प्राथमिकताएँ रहती हैं क्रिया के बिना वाक्य पूरा नहीं होता हैं क्योंकि इसके बिना ये कभी नहीं पता चलता हैं की कर्ता का क्या कहना हैं  यदि वाक्य में कर्म न रहे तो इससे कोइ फर्क नहीं पड़ता  हैं लेकिन क्रिया न हो तो वाक्य को समझना असम्भव रहता हैं । जिसे हम कुछ उदाहरण से समझते हैं जो निम्नलिखित हैं –

वह पढता हैं – He reads .

श्याम खाता हैं – Shyam eats .

रमेश विद्यालय जाता हैं – Ramesh goes to school.

इन सारे वाक्यों में वह, श्याम, रमेश कर्ता( subject) हैं और reads , eats , goes क्रिया हैं जिस क्रिया से किसी काम के होने का बोध हो रहा हैं। 

 

Verb definition in hindi 

 

Verb की परिभाषा/verb किसे कहते हैं – 

वह शब्द जिससे किसी काम के होने का बोध हो तो वह verb कहा जाता हैं अथवा जिस शब्द से किसी कार्य के संपादन होने का बोध हो तो वह क्रिया( verb) कहा जाता हैं । क्रिया के बिना कोइ भी काम संपन्न नहीं हो सकता हैं कार्य(verb) सम्पन हो जायेगा  ‘होता रहेगा , हो चूका रहेगा , तुरंत हुवा होगा या हो रहा होगा आदि जो क्रिया के विभिन्न रूप होते हैं लेकिन हर स्तिथि में किसी काम के होने का ही बोध होता हैं। 

जैसे –

  • 1.आनंद घर जाता हैं( Aanand goes to home).

इस वाक्य में ‘Go(जाना)’ क्रिया हैं जिससे किसी काम के होने का बोध हो रहा हैं और वह काम हैं-जाना(go) ,जाने का काम आनंद कर रहा हैं लेकिन वह घर तभी पहुँचेगा जब वह चलेगा ।

 

  • 2 वह पढता हैं – He reads.

इस वाक्य में read क्रिया हैं क्योंकि इससे पता चलता हैं की कर्ता कोइ काम कर रहा हैं ।

 

  • 3 मैं हँसता हूँ – I laugh .

इस वाक्य में laugh क्रिया हैं और laugh से यह पता चलता हैं की subject क्या काम कर रहे हैं ।

 

  • 4.उसने लिखा हैं  – He has written.

इस वाक्य में written क्रिया हैं ।

 

 

इन्हें भी पढ़ें – pronoun किसे कहते हैं ।

Pronoun के कितने भेद होते  हैं।

 

 

Verb कितने प्रकार के होते हैं :

 

English grammar में Verb दो प्रकार/भेद के होते हैं-

1 Full Verb(प्रधान क्रिया/मुख्य क्रिया)  

2 . Auxiliary Verb(सहायक क्रिया) 

 

 

Explanation(व्यख्या)– 

1 . Full Verb –  

जिस वाक्य में एक ही क्रिया(verb) हो तो उस क्रिया को Full Verb कहा जाता हैं, यह सहायक क्रिया के साथ भी आता हैं । Full verb को Main Verb/ Principal Verb भी कहा जाता हैं, 

जैसे –

1 . राम पढता हैं – Ram read.

2 . मेरे पास एक कार हैं – I have a  car.

3 . मैं आ रहा हूँ – I am coming .

4 . आप इसे करते हैं – you do it.

5 . वे लोग दौड़ते हैं – they are run .

इन सारे वाक्यों में एक ही क्रिया हैं । अतः इसे Main verb कहा जाता हैं ।

 

 

2 . Auxiliary Verb(सहायक क्रिया) 

जो Verb वाक्य में full verb के साथ मिलकर Tense , Question , Negative , अथवा Passive vice बनाने में सहायक होता हैं वह Auxiliary verb कहा जाता हैं । अर्थात जो क्रिया tense , vice , mood आदि के निर्माण में Main क्रिया का सहायता करता हो तो वह auxiliary verb कहा जाता हैं ।

जैसे – I am going – मैं जा रहा हूँ ।

You will go – आप जाओगे ।

I have a two home- हमारे पास दो घर हैं ।

You can go – आप जा सकते हो ।

She was excited- वह उत्साहित थी ।

इस वाक्य में am will , have , can , was Helping verb हैं ।

 

verb in hindi

 

Types of Helping verb 

सहायक क्रिया के भेद जो निम्नलिखित हैं :

 

Primary auxiliaryModal auxiliaryMarginal auxiliary
full verbs  verb, to be-do have.

Helping verbs, to be – is, are, am, was, were, do ,did , does have, has, had .

can , could , may, might, shall, should, will, would, must, ought, to. need used to dare

 

 

इन्हें भी पढ़ेंNon finite verb किसे कहते हैं । 

 

Leave a Comment