a aa in hindi , hindi a aa ( अ , आ , इ , ई , से क्ष , त्र , ज्ञ तक की जानकारी , हिंदी English के साथ )

a aa in hindi , hindi a aa (अ , आ , इ , ई , से क्ष , त्र , ज्ञ तक की जानकारी , हिंदी English के साथ) 

परिचय(Introduction)- यदि आप अ ,आ  से लेकर , क्ष , त्र , ज्ञ तक की जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं तो यह पेज बहुत महत्पूर्ण होने वाला हैं क्योंकि इस पेज में अ ,आ , इ से लेकर क , का , कि , की  तक की सम्पूर्ण जानकारिया हिंदी अंग्रेजी(English) के साथ में दी गई हैं। हिंदी भाषा को पढ़ने लिखने के लिए हिंदी वर्णमाला को सीखना पड़ता हैं और साथ में हिंदी के साथ अंग्रेजी सीखना चाहते हैं अंग्रेजी के वर्णमाला A , B , C को सीखना होता हैं ये प्रारम्भिक ज्ञान होता हैं, जो बच्चा पढ़ाई शुरूआत करते हैं उसके लिए बहुत महत्वपूर्ण होता हैं । वर्णमाला जिसे हम सामान्य रूप से प्रारम्भिक ज्ञान कहते हैं और a aa in hindi इन्ही वर्णमालाओं के सम्बंधित हैं ।

 

Hindi a aa

 

सबसे पहले  अ , आ , इ से क्ष त्र ज्ञ को सीखते हैं जिसे तालिका 1.1 में दर्शाया गया हैं जिसे हिंदी का वर्णमाला कहा जाता हैं।

तालिका 1.1 –                

अ आ इ  ऊ
औ अं अ:
क ग घ  ङ 
च ज झ  ञ
 ड ण
प म 

 

य  र ल श स ह क्षत्र          
ज्ञ – Tr

 

 

क का  किकीकुकूके कैको कौ
कंकः

 

ऊपर के सभी लिखावट हिंदी वर्णमाला के वर्ण हैं जिसमें स्वर वर्ण तथा व्यंजन वर्ण शामिल हैं । 

अब English alphabet(अंग्रेजी वर्णमाला) को भी समझते हैं जो अंग्रेजी वर्णमाला के बड़े अक्षर हैं जिसकी संख्या 26 हैं जिसे निचे दर्शया गया हैं ।

 

अंग्रेजी वर्णमाला के बड़े अक्षर (English Letters के Big Letter)

ABCDEFGHIJ
KLMNOPQRST
UVWXYZ

 

English alphabet(अंग्रेजी वर्णमाला) के छोटे अक्षर(Small Letter) –

abcdefghij
klmnopqrst
uvwxyz

 

अब हिंदी वर्णमाला के प्रत्येक वर्ण को English में क्या कहते हैं उसे देखते हैं जो निम्नलिखित हैं ।

तालिका 1.2

अ-Aआ – AAइ – I ई -EEउ-Uऊ-OO
ए-Eऐ-Aiओ-Oऔ-Auअं-Anअ:-Ah
क-K– Khग-Gघ-Ghड़-Ng
च-Chछ-Chh ज-Jझ-Jhञ -Yn
त-Tथ-Thद-Dध-Dhन-N
ट-Tठ – Thड – Dढ-Dhन-N
प-Pफ-Phब-Bभ-Bhम-M
य-Yर- Rल-Lव-Vश-Shष-Shस-Sह-Hक्ष-Kshत्र-Tr   
ज्ञ-Gya

 

अब बारह खाड़ी के English  meaning को देखते हैं जो निम्नलिखित हैं ।

क – Kका – Kaकि – Kiकी – Keeकु – Kuकू – Kooके – Keकै – Kaiको – Koकौ – Kau
कं – Kanकः – Kah

 

यदि आप ऊपर दिए के सभी वर्ण को समझ गए होंगें तो अब इन वर्ण के विशेषताओं के बारे में जानते हैं की कौन सा वर्ण क्या हैं । 

वर्ण की विशेषता – आपको बता दे की हिंदी में जितने भी वर्ण हैं उनकी कुल संख्या 52 हैं जिसमें 11 स्वर वर्ण हैं तथा 41 व्यंजन वर्ण हैं ।

English alphabet(अंग्रेजी वर्णमाला) में 26 अक्षर(Letter) होता हैं इसमें 5 स्वर वर्ण(Vowel sound) हैं तथा 19 व्यंजन वर्ण (Consonant sound) तथा 2 अर्धस्वर(Semi vowel) होता हैं।

 

a aa in hindi

 

हिंदी के स्वर और व्यंजन वर्ण :

स्वर वर्ण (Vowel sound) – ऐसा वर्ण जिसका उच्चारण करते समय किसी अन्य वर्ण का सहायता नहीं लेना पड़ता हैं वह स्वर वर्ण कहलाता हैं अथवा जिस वर्ण का उच्चारण अपने आप हो तो वह स्वर वर्ण कहा जाता हैं जिनकी संख्या 11 निम्न हैं –

अ , आ , इ , ई , उ , ऊ , ए , ऐ , ओ , औ , ऋ

 

व्यंजन वर्ण(Consonant Sound) – ऐसा वर्ण जिसका उच्चारण करते समय किसी अन्य वर्ण का सहायता लेना पड़े तो वह व्यंजन वर्ण कहा जाता हैं अथवा जिस वर्ण का उच्चारण करते समय स्वर वर्ण का सहायता लेना पड़े तो वह व्यंजन वर्ण कहा जाएगा।

जैसे – कवर्ग , चवर्ग , टवर्ग , तवर्ग , पवर्ग और य , र ,  ल , व से क्ष , त्र , ज्ञ तक तथा साथ में लृ , ढ़ , ड़ , अं , अ: आते हैं ।

(Note – कवर्ग मतलब – क , ख , ग , घ , ङ होता हैं इसी प्रकार चवर्ग , टवर्ग , आदि का मतलब उसके पुरे वर्ण होता हैं जिसे आप तालिका 1.1 में देख सकते हैं)

 

 

अंग्रेजी के स्वर और व्यंजन वर्ण :

अंग्रेजी के स्वर वर्ण(Vowel sound) – इसकी परिभाषा वैसे ही हैं जैसे हिंदी स्वर वर्ण की परिभाषा हैं अतः आप इसका परिभाषा हिंदी के स्वर वर्ण के जैसे दे सकते हैं । लेकिन इसकी संख्या 5 हैं जो निम्नलिखित हैं।

A , E , I , O , U 

 

अंग्रेजी के व्यंजन वर्ण(Consonant Sound)- इसकी परिभाषा हिंदी के व्यंजन वर्ण के जैसे दे सकते हैं, जिसकी संख्या 19 हैं जो निम्न हैं –

B , C , D  , F , G , H , J , K , L , M , N  , P , Q , R , S , T , V , X , Z 

 

(Note – W तथा Y को Semi Vowel कहा जाता हैं जब यह किसी शब्द के अंत अथवा बीच में आते हैं तो इसका प्रयोग Vowel की तरह होता हैं और यह vowel हो जाते हैं । छोटा(Small) a , b , c , d हो या बड़ा(Big) A , B , C , D स्वर व्यंजन के लिए दोनों समान हैं।)

 

इन्हें भी पढ़ें – हिंदी वर्णमाला क्या हैं

 

यहाँ तक स्वर व्यंजन के बारे में तो समझ में आ गए होंगें , अब कुछ प्रमुख हिंदी के अन्य वर्ण के भी बारे में समझ लेते हैं जो निम्नलिखित हैं :

1 . अयोगवाह – अनुस्वार  और विसर्ग को अयोगवाह कहते हैं ।

 

2. स्पर्श वर्ण या वर्गीय जैसे की पाँच – पाँच व्यंजनों का एक – एक वर्ग हैं और वर्गो की संख्या पाँच हैं जीने बोलने के लिए कंठ , तालु , दाँत , मूर्धा , ओष्ठ आदि का प्रयोग किया जाता हैं इसलिए इन्हें स्पर्श वर्ण कहा जाता हैं , इस प्रकार हम कह सकते हैं कवर्ग, चवर्ग , तवर्ग , टवर्ग , पवर्ग को स्पर्श वर्ण कहा जाता हैं ।

 

3 . अन्तस्थ वर्ण –  य , र , ल , व को अंतस्थ वर्ण कहा जाता हैं।

 

4 . उष्म वर्ण – श , ष , स , ह को उष्म वर्ण कहा जाता हैं।

 

a aa in hindi

 

वर्णो का उच्चारण स्थान:

(i) अ , आ , कवर्ग , ह , विसर्ग(:) का उच्चारण कंठ से होता हैं ।

(ii)  इ , ई , चवर्ग , य , श  का उच्चारण  तालु से होता हैं ।

(iii)  ऋ , टवर्ग , र , ष  का उच्चारण मूर्द्धा  से होता हैं ।

(iv) तवर्ग , ल , लृ , स का उच्चारण दन्त से होता हैं ।

(v) उ , ऊ , पवर्ग का उच्चारण ओष्ठ से होता हैं । 

(vi)  ङ , ञ , ण , न , म का उच्चारण स्थान नासिका मतलब नाक से होता हैं ।

(vii) ए , ऐ का उच्चारण कंठ + तालु से होता हैं ।

(Viii) ओ , औ का उच्चारण  कंठ + ओष्ठ हैं  ।

(ix) व का उच्चारण दन्त + ओष्ठ हैं ।

 

इन्हें भी पढ़ें –  हिंदी वर्णमाला worksheets 

संज्ञा किसे कहते हैं तथा संज्ञा के भेद ।

 

 

Leave a Comment